यह वेबसाईट आप को एक ऐसी दुनिया की सैर कराएगी, जहाँ उंची उंची पहाड़े वर्फ से लदे होते हैं, जहाँ ठण्डि ठण्डि हवा चलती है और रंग विरंगी फूल खिलते है। पांगी घाटी, पांगी संस्कृति, पांगवाली भाषा के बारे में जानकारी लेने के लिये तथा पांगी गाने, तस्वीरें और विडिओंज का लुफ्त उठाने के लिये आपका स्वागत है। इस वेबसाईट को बुकमार्क करें।

पंगवाली  तुबारि मासिक पत्रिका पढ़ने के लिये   यहां पर क्लिक करें

पांगी घाटी के मनोहर तस्वीरों को देखने के लिये  यहां पर क्लिक करें

 

स्थानीय मुहावरें  पढ़ने के लिये   

यहां पर क्लिक करें।

कहानी के किताब को पढ़ने के लिये  

यहां पर क्लिक करें।